नारी नदी का प्रवाह …… [कविता एवं स्वर] – श्रीकान्त मिश्र ’कान्त’

http://www.google.com/reader/ui/3523697345-audio-player.swf

रचनाकार के स्वर में
शीर्ष तुंग से क्षरित
दुग्ध धार सी धवल
सर्पिणी सी इठल
मस्त मेघ सी मचल
यौवन प्रवेग से
शिव जटाजूट घेर
स्नेहसिक्त शैलखण्ड
उर कठोर दम्भ तोड़
सारे तटबन्ध तोड़
अडिग यतीचित्त को
करती हो निर्मल
बहती हो कलकल

पवन सा उन्मुक्त मन
भावयान पर सवार
नेह्दृष्टि आकुल
प्रणयवेग का प्रहार
बहचला संगसंग …
स्थिर चलायमान
लुढ़कता है गोलगोल
घिस जाता हर कोण
चटकता है चूर चूर
जीवन रसधार में

आतप मरुभूमि हृदय
अवनि के प्रस्तार में
सिंचित तरू कानन के
कोमल नवांकुरों से
उपजती है स्रष्टि नवल
क्षैतिज आलोक में
नदी नारी का प्रवाह
गहन गम्भीर हो
शांत मन धीर हो
बहती है सागर को
सभ्यता संस्कृति के
अद्भुत हरितालोक में

कालचक्र पर सवार
उड़ चलने मेघ संग
लेने फिर जीवन नया
समाधिस्थ हिमांगन में
पुरूष अभिमान का
अतुल आकार तोड़्
उर बना मोहसिक्त
रेत के कणों में छोड़
धूल धरणि धूसरित
विरहाकुल हो ढूंढ़ता
आंधी तूफान में
मेघ मेघ खोजता
नदी अस्तित्व को
Advertisements

6 टिप्पणियाँ (+add yours?)

  1. Suman
    मई 17, 2010 @ 08:55:46

    nice

    प्रतिक्रिया

  2. नीरज जाट जी
    मई 17, 2010 @ 09:02:11

    क्या भयंकर हिन्दी है।

    प्रतिक्रिया

  3. zeal
    मई 17, 2010 @ 11:08:11

    Beautifully compared a woman with the free flow of river. Honestly speaking i have never read so beautiful a poem, describing a woman.The impact is enhanced by the wonderful voice of the poet.Indeed a beautiful creation !Divya

    प्रतिक्रिया

  4. उम्मेद गोठवाल
    मई 17, 2010 @ 11:25:00

    सुन्दर शब्द चयन के साथ सशक्त अभिव्यक्ति….श्रेष्ठ कृतित्व हेतु बधाई।

    प्रतिक्रिया

  5. वाणी गीत
    मई 17, 2010 @ 11:57:14

    नदी और नारी की सामान विशेषताओं को दिखाती अच्छी कविता …

    प्रतिक्रिया

  6. रंजना
    मई 17, 2010 @ 19:12:36

    shabd chayan,pravaahmayta aur bhaav gaambheerya ne mantra mugdh kar liya…Atisundar is kavita ke rasaswadan ka suawsar dene hetu kotishah aabhar…

    प्रतिक्रिया

एक उत्तर दें

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  बदले )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  बदले )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  बदले )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  बदले )

Connecting to %s

%d bloggers like this: